Breaking News

30 बॉडी बिल्डिंग टिप्स और सवालों के जवाब

जिम, एक्‍सरसाइज वगैरा से जुड़े कई सवाल हमारे मन में होते हैं। कुछ बहुत ही छोटी छोटी चीजें होती हैं जो हमें अटकाए रखती हैं। इस समस्‍या के हल के लिए हम फ्री बॉडी बिल्‍डिंग टिप्‍स दे रहे हैं। यहां कई बेसिक सवालों के जवाब देने की कोशिश की है। आप एक नजर गौर फरमाएं, हो सकता है आपके हाथ भी कुछ काम के टिप्‍स लग जाएं। सवाल भी पूछ सकते हैं। सवाल पूछने का तरीका सबसे आखिर में लिखा है।

मेरा वेट 55 किलो है। एक महीने से ज्‍यादा हो गया जिम जाते हुए। कौन सा सप्‍लीमेंट इस्‍तेमाल करूं और ओरिजिनल कहां से मिलेगा।
अभी आपको कम ही वक्‍त हुआ है जिम जाते हुए। अभी तो आपको सही ढंग से कसरत भी नहीं आती होगी। बहरहाल आप सप्‍लीमेंट लेना चाहते हैं तो ले सकते हैं मगर ओरिजिनल सप्‍लीमेंट को हासिल करना भी आसान नहीं है। हमारी टीम के कुछ मैंम्‍बर आजकल हेल्‍थकार्ट से सामान मंगाते हैं अभी तक किसी ने कोई शिकायत नहीं की है। अगर आपका कोई जानकार विदेश आता जाता हो उससे भी मंगा सकते हैं वहां मिलावट के मामले बेहद कम आते हैं। इसके अलावा आप सीधे सप्‍लीमेंट बनाने वाली कंपनी से संपर्क करके देखें शायद बात बन जाए। अगर गेन करना चाहते हैं तो सप्‍लीमेंट को शेक में डालकर इस्‍तेमाल करें। चेक करें शेक जो शार्क बना देगा। (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो हेल्‍दी खाएं कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

वेट गेनर और मास गेनर में क्‍या फर्क है। बॉडी बनाने के लिए क्‍या सही है और क्‍यूं। कौन सी ब्रांड का प्रोडक्‍ट लेना चाहिए।
वेट गेनर में कम प्रोटीन के साथ शुगर, फैट व कार्ब्‍स होता है। मास गेनर में प्रोटीन ज्‍यादा होता है और शुगर व फैट कम। अगर आप दुबले पतले हैं तो पहले वेट गेनर का इस्‍तेमाल करें। जहां तक बॉडी बिल्‍डिंग की बात है तो इसमें अलग अलग स्‍टेज पर अलग अलग सप्‍लीमेंट की जरूरत होती है। जो भी प्रोडक्‍ट खरीदें उसकी कैलकुलेशन देखें कि सौ ग्राम में आपको क्‍या क्‍या मिल रहा है तो और कितने में पड़ रहा है। किसी भी नामी कंपनी का प्रोडक्‍ट खरीद सकते हैं। ज्‍यादा जरूरी ये है कि आप माल खरीद कहां से रहे हैं। इसमें आप इंटरनेट की मदद ले सकते हैं। हो सकता है कंपनी खुद आपको डीलर के पास तक पहुंचा दे। ध्‍यान रखें कि सप्‍लीमेंट सिर्फ मदद करता है बॉडी बनाती है उम्‍दा डाइट।

बॉडी कैसे बनती है
तीन चीजों से बॉडी बनती है। एक्सरसाइज, डाइट और आराम। तीनों को साथ लेकर चलना होगा। किसी एक में कमी की तो उसका असर सीधे बॉडी पर पड़ेगा। आमतौर पर एक से डेढ़ घंटे का वर्कआउट, बॉडी वेट के प्रतिकिलो पर दो से ढाई ग्राम प्रोटीन और आठ घंटे की नींद अच्छे शरीर की बेसिक जरूरत है। भीम बनने के तीन नियम (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो बॉडी बिल्‍डिंग कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

मुझे सिर्फ बाइसेप्स बनाने हैं, बस इसी की कसरत करूं तो बन जाएंगे?
नहीं, शेप तो आ जाएगी हल्का फुल्का साइज भी बढ़ जाएगा पर आगे नहीं बढ़ पाएंगे आप। लीची के पेड़ पर कटहल नहीं उग पाता। बड़े कंधों, बड़ी चेस्ट पर ही बड़े बाइसेप्स पनप पाते हैं। आप जो सोच रहे हैं वह विज्ञान और कुदरत दोनों के नियमों के खिलाफ है। अगर ऐसा हो रहा होता तो लोग सबकुछ छोड़कर बस बाइसेप्स की कसरत करते क्योंकि सबको यही चाहिए होता है।
tips
आखिर बाजुओं का साइज बढ़ता कैसे है
बॉडी बनाने के सभी नियम इस पर भी लागू होते हैं। एक्सरसाइज, डाइट और आराम। हमारी बाजू के दो हिस्से होते हैं, बाइसेप्स और ट्राइसेप्स। बाजू में 30 फीसदी बाइसेप्स और 70 फीसदी ट्राइसेप्स होता है। एक्सरसाइज करते वक्त ये बात ध्यान में रखनी चाहिए। दूसरी बात, अक्सर ओवर एक्सरसाइज की वजह से साइज नहीं बढ़ पाता। डोले नहीं बढ़ने की वजह  (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो बॉडी बिल्‍डिंग कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

फैट गलाने वाली कैप्सूल क्या होती है
यह दवा होती है, इनका काम मेटाबॉलिज्म को हाई रखना और आपकी भूख को मारना होता है। ज्यादातर में भारी मात्रा में कैफीन होता है। यह भूख को पूरी तरह मार तो नहीं पाती मगर आपको ऐसा लगता है कि आपको खाने की जरूरत नहीं। ऐसी भी दवाएं हैं, जिन्हें खाकर कुछ नहीं होने वाला और ऐसी भी हैं, जिन्हें खाकर कई लोग मर चुके हैं। डीएनपी को खाकर विदेशों में कई लोगों की मौत हो चुकी है। अगर फैट बर्न करने की दवा लेनी है तो बहुत सोच समझकर लेना। ज्यादा कैफीन वाली कैप्सूल लड़कियों के गर्भ को नुकसान पहुंचाती है। यह भी जान लें कि बिना मेहनत किए व डाइटिंग किए सिर्फ गोली से फैट कम नहीं होता और फैट गलाने वाली हर गोली के साइड इफेट्स होते हैं।

पेट कैसे कम होता है
पेट कम करने के कई रास्‍ते हैं। सामान्‍य रास्‍ता है एक्‍सराइज और डाइट का। एक बात हमेशा याद रखनी चाहिए कि सिर्फ पेट की कसरत करने से पेट कम नहीं होता। पेट के साथ साथ पूरे बदन की कसरत जरूरी है। कार्डियो के साथ वेट लिफ्टिंग भी करनी होगी। डाइट पर कंट्रोल किए बिना पेट कम करना आसान नहीं है।
दूसरा रास्‍ता है दवा, एक्‍सरसाइज और डाइट का। इसमें फैट बर्न करने में मदद करने वाली दवा ली जाती है साथ में कसरत और डाइटिंग चलती है।
तीसरा रास्‍ता वो है जिसकी सलाह कोई डॉक्‍टर नहीं देता। कई सेलिब्रिटी इसे करने का जोखिम उठाते हैं। इसमें लोग खाना करीब करीब पूरी तरह से छोड़ देते हैं। कोई दस दस दिन तक सिर्फ नींबू पानी पीता है तो कोई सिर्फ सब्‍जियों का जूस, इसके अलावा सिर्फ उबली सब्‍जियां, या सिर्फ चिकन लेग पीस और जूस। कई तरह के डाइट प्‍लान हैं, जिन्‍हें खतरनाक कहा जाता है।

बॉडी का साइज बढ़ाने के लिए कैसी कसरत करनी चाहिए
साइज बढ़ता है हैवी वेट लगाने और हैवी खाने से। आप रैप रेंज 6 से 10 तक रही रखें। हर एक्‍सरसाइज के तीन सेट लगाएं और हैवी वेट लगाने की कोशिश करें। हफ्ते में पांच दिन ही कसरत करें और उनमें 4 दिन हैवी और एक दिन लाइट वेट के साथ एक्‍सरसाइज करें। जिस दिन लाइट वेट के साथ कसरत करें 10 से 15 रैप निकालें और उस दिन मिक्‍स एक्‍सरसाइज करें।

क्‍या पैरों की कसरत करनी जरूरी है
हां, बिल्‍कुल जरूरी है। थाई की कसरतें ही आपको आप इंसान से पहलवान बनाएंगी। कुछ लोग ऐसे भी दिख जाते हैं जो ऊपर से तो बने होते हैं मगर पैर माचिस की तीली जैसे होते हैं। ऐसा नहीं होना चाहिए। थाई की कसरतें आपको मर्द बनाती हैं। सबसे ज्‍यादा ग्रोथ हार्मोंस स्‍क्‍वेट और पैरों से जुड़ी अन्‍य कसरतों में रिलीज होते हैं। जिन लोगों का अपर बॉडी में साइज बढ़ना रुक जाता है उन्‍हें थाई की कसरत बढ़ाने की सलाह दी जाती है। मजबूत पैरों से ही मजबूत बदन बनता है।

प्रोटीन पाउडर लेना चाहिए या नहीं
प्रोटीन पाउडर लेने में कोई बुराई नहीं। हां वह उम्‍दा क्‍वालिटी का होना चाहिए। गली मोहल्‍ले में बिकने वाले मोटे करने वाले पाउडर नहीं। एक सच्‍चाई यह जान लें कि प्रोटीन पाउडर कोई रामबाण नहीं है। यह सिर्फ मदद करता है इसीलिए इसे सप्‍लीमेंट कहते हैं। सिर्फ पाउडर पीकर बॉडी नहीं बना पाएंगे। पाउडर से ज्‍यादा उम्‍दा डाइट पर ध्‍यान देना होगा।

क्रेटीन लेने से क्‍या फायदा है
क्रेटीन अच्‍छी चीज है मगर ऐसा नहीं है कि इसके बिना आपका काम ही नहीं चलेगा। नॉन वेज खाने वाले लोगों को वैसे भी क्रेटीन का कोई खास फायदा नहीं होता क्‍योंकि उन्‍हें जरूरत का क्रेटीन नॉन वेज से मिल जाता है। शाकाहारी लोगों पर यह ज्‍यादा अच्‍छे से काम करता है। क्रेटीन मसल्‍स का वॉल्‍यूम बढ़ाता है। आपको मसल भरा भरा लगेगा। यह साइज बढ़ाने में कोई बहुत बड़ी भूमिका नहीं निभाता। क्रेटीन के बारे में सबकुछ जानें  (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो बॉडी बिल्‍डिंग कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

एक्‍सरसाइज का एक शेड्यूल कितने दिन फॉलो करना चाहिए
जिन लोगों ने जिम नया नया जाना शुरू किया है वो एक शेड्यूल 20 दिन से एक माह तक फॉलो कर सकते हैं ताकि उन्‍हें कसरत करने का तरीका आ जाए। वैसे तो बॉडी बिल्‍डर हर दिन नया शेड्यूल अपनाते हैं। हर बार कसरतों को बदलते हैं या उन्‍हें आगे पीछे कर लेते हैं। जो लोग एक्‍सरसाइज करना सीख गए हैं, उन्‍हें हर हफ्ते शेड्यूल चेंज करना चाहिए।

एक्‍सरसाइज में हेल्‍प लेनी चाहिए या नहीं
मदद लेने में कोई बुराई नहीं। इसे हम नेगेटिव रैप कहते हैं, लेकिन हर कसरत में मदद लेना भी ठीक नहीं है। मदद सिर्फ तब लें, जब बात सिर्फ हल्‍की सी मदद तक रहे, पूरी ताकत दूसरा शख्‍स ही लगा रहा है तो बेहतर है आप वेट कम कर लें। कई बार ऐसा होता है कि वेट आप आधी दूरी तक तो उठा लाए मगर आधी के लिए आपको हेल्‍प चाहिए तो यहां ठीक है मगर शुरू से ही मदद लेना ठीक नहीं माना जाता। कसरत सीख रहे हैं तो भी मदद लेना जायज है। मगर सीख चुके हैं तो शुरुआती दौर में अपने बूते काम करें, आपको कुछ वक्‍त बाद खुद अहसास हो जाएगा कि कब मदद लेनी है।

पावर सेट किसे कहते हैं
कभी कभी किसी एक्‍सरसाइज में बस एक या दो रैप निकाल कर रख देते हैं। इन्‍हें पावर सेट कहते हैं यह खूब हैवी वेट लगाकर होते हैं और इनका मकसद पावर बढ़ाना होता है। ये ग्रोथ हार्मोंस को जबरदस्‍त तरीके से एक्‍टीवेट करते हैं और खुद की ताकत समझने का मौका देते हैं।

पावर एक्‍सरसाइज किसे कहते हैं
डेट लिफ्ट, स्‍क्‍वेट, चिन अप पुल अप, फ्लैट बेंच प्रेस, बेंट ओवर बारबेल रो, बारबेल शोल्‍डर फ्रंट प्रैस की गिनती पावर एक्‍सरसाइज में होती है। इन्‍हें करने से पूरे शरीर का विकास होता है। ये कसरतें मर्द बनाती हैं, ताकत बढ़ाती हैं और साइज बढ़ाने में बहुत मदद करती हैं।

वार्म अप कैसे करें, कितना करें
अगर आप गेन की कोशिश कर रहे हैं तो दस मिनट का वार्म उप बहुत है। हल्‍की फुल्‍की स्‍ट्रेचिंग, हल्‍के वेट से अलग अलग मशीनों पर थोड़ी सी कसरत और बस। हैवी जिम करने वालों को अपनी एनर्जी बचानी चाहिए। अगर रनिंग करनी है तो जिमिंग के बाद करें। जिन लोगों को वेट लूज़ करना है उनके लिए कार्डियो पर ज्‍यादा वक्‍त देना ठीक है। जो लोग नॉर्मल एक्‍सरसाइज कर रहे हैं उनके लिए भी ठीक है, मगर बॉडी बिल्‍डिंग करने वालों के लिए शुरू में रनिंग कभी कभार तो चल जाएगी रोज नहीं। हल्‍की फुल्‍की जॉगिंग करके आप एक्‍सरसाइज शुरू कर सकते हैं।

एब्‍स की एक्‍सरसाइज कैसे करें
पेट के तीन हिस्‍से होते हैं। अपर एब्‍स, लोअर एब्‍स और साइड्स। नाभी से ऊपर का हिस्‍सा अपर एब्‍स, नाभी से नीचे लोवर और साइड्स कूल्‍हों के साथ वाला हिस्‍सा। आमतौर पर जिस भी एक्‍सरसाइज में आप पैरों को ऊपर नीचे करेंगे वो लोवर एब्‍स पर असर डालते हैं। जिसमें आप कमर से ऊपर के हिस्‍से को मूव करेंगे जैसे क्रंचेस, वो अपर एब्‍स पर असर डालते हैं। इन सबके अलावा कार्डियो पूरे पेट पर काम करती है। तो आप एक दिन लोवर, एक दिन अपर और एक दिन साइड्स करें। रनिंग, जॉगिंग, माउंटेन क्‍लाइंबर, बर्पी जैसी कसरतें जो पूरे पेट पर काम करती हैं उन्‍हें आप रोज कर सकते हैं। सिर्फ क्रंचेस से कम नहीं होता पेट  (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो फिट फिगर कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

क्‍या बीयर पीने से बॉडी बनती है
नहीं, ये सब अफवाहे हैं। बॉडी बनती है दूध, दधी, फल, अंडे, मांस, पनीर वगैरा से। बीयर पीने से सिर्फ पैसे खर्च होते हैं और वो भी एक बुरी लत में। आपको पीनी है इसका कोई और बहाना ढूंढ लें, बॉडी बनाने के बहाने बीयर पीने का कोई सेंस नहीं है।

बॉडी बनाने के लिए कितना चिकन खाना चाहिए
अपनी प्रोटीन की जरूरत के हिसाब से आपको चिकन खाना होगा। अपना बॉडी वेट चेक करें, अपनी जरूरत कैलकुलेट करें और फिर तय करें कि आपको कितना चिकन खाना है। पर एक बात ये है कि आमतौर पर एक बार में 300 ग्राम से ज्‍यादा चिकन खाना फायदे का सौदा नहीं है। आप अपनी खुराक को दो या तीन हिस्‍सों में बांट लें।

बॉडी बनाने के लिए कितना प्रोटीन लेना होता है
ये सवाल जरा टेढा है क्‍योंकि हर शरीर की जरूरत अलग अलग होती है। आपकी बिल्‍ड और आपके मकसद पर डिपेंड करता है कि आपको कितना प्रोटीन लेना चाहिए। आमतौर पर शरीर के वजन के प्रतिकिलो पर एक से तीन ग्राम तक प्रोटीन लेना होता है। जो लोग सीरियस बॉडी बिल्‍डिंग कर रहे हैं वो तीन ग्राम तक ले सकते हैं। सामान्‍य शख्‍स एक ग्राम में भी काम चला सकता है। एक उदाहरण से समझें। एक 60 किलो का युवक जो बॉडी बनाना चाहता है वो जब अच्‍छे से जिम करेगा तो उसे तकरीबन 180 ग्राम प्रोटीन लेना होगा।

ऑलिव ऑयल अच्‍छा होता है या सरसों का तेल
ऑलिव ऑयल और सरसों का तेल दोनों अच्‍छे होते हैं। आजकल आपको हर जगह ऑलिव इसलिए सुनाई देता है क्‍योंकि उसका बाजार बनाना है। वैसे आपको बता दें कि लगभग हर मायने में सरसों का तेल ऑलिव के मुकाबले बराबर बैठता है और कीमत उससे आधी है।

शाकाहारी लोग प्रोटीन कैसे जुटाएं
आपके लिए दूध, पनीर, सोयाबीन, राजमा और अन्‍य बीन व दालें प्रोटीन का अच्‍छा स्रोत हैं। सौ ग्राम सोयाबीन में करीब 42 ग्राम प्रोटीन होता है। इसे आप मूंग की दाल व चने के साथ भिगो कर खा सकते हैं। उबाल भी सकते हैं, हालांकि यह पूरी तरह से गलता नहीं है मगर फिर भी अच्‍छा लगता है। कटोरा भर कर दाल में दो चम्‍मच चावल डालकर पिया करें, दलिया खाएं, दो चार लीटर दूध पिएं कैसे नहीं बनेगी बॉडी।

एक्‍सरसाइज करने से पहले क्‍या खाना चाहिए
अगर आप शाम को एक्‍सरसाइज करने जा रहे हैं तो आपने दिन में खा पी लिया होगा, इसलिए ज्‍यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है मगर दलिया, केले या दही खाकर अथवा जूस या ग्‍लूकोज पीकर जिम जा सकते हैं। अगर आप सुबह जिम जाते हैं तो एक्‍सरसाइज से करीब आधा घंटा पहले दो तीन केले खा लें, दही और उबला आलू भी खा सकते हैं। इसके साथ कसरत से करीब 20 मिनट पहले ग्‍लूकोज अथवा जूस पी लें। अगर आप बिना खाए कसरत करेंगे तो इससे परफॉर्मेंस पर असर पड़ेगा और मसल्‍स पर भी। ऐसे में शरीर मसल्‍स में मौजूद पोषक तत्‍वों को एनर्जी में तब्‍दील कर इस्‍तेमाल करने लगता है। आपके पेट में कुछ होता नहीं है इसलिए शरीर पेट की बजाए मसल्‍स से खुराक लेना शुरू कर देता है।

व्‍हे प्रोटीन क्‍या होता है
दूध से चीज़ बनाने के दौरान जो पानी बचता है उसे ही व्‍हे कहते हैं। इस पानी को प्रोसेस कर पाउडर जैसा प्रोटीन हासिल किया जाता है। व्‍हे प्रोटीन तीन तरह का होता है आइसोलेट, कंस्‍ट्रेट और ब्‍लेंड। आइसोलेट में फैट की मात्रा बहुत कम होती है। कंस्‍ट्रेट में थोड़ा फैट होता है और ब्‍लेंड आइसोलेट व कंस्‍ट्रेट को मिलाकर बनाया जाता है। व्‍हे प्रोटीन के बारे में सब जानें।  (अगर ये लिंक काम नहीं कर रहा है तो हेल्‍दी खाएं कैटेगरी में जाकर इसे पढ़ सकते हैं)

क्‍या मैं सिर्फ कमर और पेट की एक्‍सरसाइज करके फैट घटा सकती हूं
नहीं, स्‍पॉट फैट रिडक्‍शन जैसी चीज बेहद एडवांस लेवल की बात है। फैट कम करना है तो पूरे बदन की एक्‍सरसाइज करनी होगी। अगर किसी एक की पार्ट मसलन पेट की एक्‍सरसाइज लगातार करती रहेंगी तो थोड़ा बहुत कम होने के बाद कसरत भी काम करना बंद कर देगी। मसल्‍स सख्‍त हो जाएंगे, ये और खराब बात होगी। चर्बी को कमर पर या पेट पर मौजूद चर्बी की तरह मत देखें इसे शरीर में मौजूद चर्बी की तरह देखें और कसरत भी पूरे शरीर की करें। हां जिस पार्ट पर ध्‍यान देना है उसकी लिए अलग से टाइम जरूर निकालें।

प्रोटीन पाउडर पानी में लेना चाहिए या दूध में
अगर गेन करने की कोशिश में लगे हैं तो ठंडे दूध में लें थोड़ा और प्रोटीन मिल जाएगा। दूध से गैस बनती है तो पानी या जूस में ले सकते हैं। इसके अलावा आप ग्‍लूकोज या छाछ उर्फ मट्ठे के साथ भी प्रोटीन ले सकते हैं।

जिम करने के कितनी देर बाद खाना चाहिए
कसरत के दौरान आप ढेर सारी एनर्जी फूंकते हैं, जिससे आपके मसल्‍स की भूख बढ़ जाती है। लंबे समय से कहा जा रहा है जिम करने के तीस मिनट के भीतर उम्‍दा प्रोटीन वाली डाइट ले लेनी चाहिए। इस पीरियड को एनाबॉलिक विंडो कहा जाता है, हालांकि हाल ही में हुई रिसर्च कहती हैं कि इससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता, मगर हमारा मानना है कि फिलहाल आप पुराने कायदे को ही फॉलो करें। भूखे मसल्‍स को जितनी जल्‍दी खुराक दे दें अच्‍छा है, जल्‍दी खाएंगे तो जल्‍दी हजम भी करेंगे। बॉडी बिल्‍डिंग में तो दिनभर खाना होता है। अगर आपका जिम घर से दूर है तो डाइट साथ लेकर जाएं।

Check Also

बाइसेप्स 16 इंच का कैसे बनाऊं

जिम, वर्कआउट, डाइट और वेट लॉस या वेट गेन को लेकर पूछे गए आपके सवालों ...

47 comments

  1. vikram singh yadav

    Good to know about workout

  2. Sir wait ghata ke fir se baisef aur chest bana sakte hai

  3. shaktibhushan m swami

    Workout karte samy pani pina chahiye ki nahi & pina hay to kitena pina chahiye

  4. Meri body kafi patli hair.night 6ft air weight 61 kg hai. Weight gain air chest badne me like kon se kasrat karni chaye.

  5. rajat kumar kaushal

    Sir me 6″2inches aur 98kg ka hu bicep17.5 inches hai chest 49 inches hai normally sir plz diet kya lu plz aap btaiye kyoki mujhe lag rha hai ab body bhut hi slowly gain kr rhi hai plz sir kuch btaiye aap.

    • 17 इंच का बाइसेप्स यूं ही बनता। आपकी बॉडी ठीक ग्रो कर रही हैे। अब इसके आगे की राह बहुत कठिन है। इसके आगे नेचुरल तरीके से जा पाना बेहद कठिन है। अब तो आपको दूसरी चीजें ही अपनानी होंगी जिनका जिक्र हम यहां नहीं कर सकते।

  6. Sir bady bna na chhta hu.. Agr me me koi bhi protin ya kuch bhi leta hu… Toh usko kitne time tak chlana chhiye ki wo side effect na kre… or kitne time side effects krta h..

    • सर आमतौर पर तीन महीने तक हम सपलीमेंट चलाते हैं। उसके बाद ब्रेक लेते हैं। अगर आपका सपलीमेंट असली है तो आमतौर पर उसका कोई साइड इफेक्ट नहीं होता।

  7. Hi,
    Sir m pichle 2 saal se gym kar rha hu meri age 21 years h or height 5.9 and weight 60. sir m jab tak supplement leta rhta hu tab tak mera weight 70 tak bna rehta h or weight b gain hota h chest 40 biceps 14 but abhi chest 38 or bicep 13 h isse jyada kabi nhi ho pata.sir kuch esa btaeyi ke muje supplement b na lena pade or sehat b ban jaye qki jab tak supplement leta hu body thik rahti h but bina supplement k bhook b nhi lagti khana khane ka man n karta….islie fr s week ho jata hu…

  8. Sir ab m supplement n lunga sir ap plz diet plan and exercise schedule bta dijiye plz.

    • सर इसी लेख के आखिर में सवाल पूछने का तरीका दिया है आपसे अनुरोध है आप भी वैसे ही सवाल पूछें हम कमेंट बॉक्स में सारे सवालोंं के जवाब नहीं दे सकते।

  9. Me abhi 18 yer ka hu or mera Waite 58 kg h

    Me gym jana chahta hu kya shi h

  10. मेरी उम्र 47 साल है पेट पर चर्बी है वजन 74 kg है 3 महीनो से जिम कर रहा हु पेट की चर्बी केसे कम होगी

  11. बॉडी मॉस पाउडर खाने के पहले लें या बाद में।

  12. Kya sambandh banane se body nhi banti

  13. sr mera age 19 yers,aur hight 5’4 aur 46 kg weight ka hu phir v mai bache jaisa dikhta hu ,
    to sr mai young kaise dikh paunga
    kisi ne rebaital k sujhaw diya kya wo mere liye lavdayak sabit hoga, ya mujhe kya krna chahi.
    plzz reply me

    • आपको दम लगाकर कसरत करनी चाहिए और डट कर खाना चाहिए। आपको दो लेखों के लिंक दे रहा हूं उन्हें चेक करें। रिवाइटल आपको किसी काम की नहीं है। आपके काम आएगी सही डाइट। मैं जो आपको डाइट चार्ट दे रहा हूं उसे थोड़ा कम कर लें और अपने हिसाब से बदल लें।

      मसल्स कैसे बनायें ये समझने के लिए जानें कि कितनी एक्सरसाइज करें और क्या खायें
      http://www.bodylab.in/2015/05/25/muscles-like-monster-3-rules-in-hindi/

      वजन बढ़ाने का भारतीय डाइट चार्ट
      http://www.bodylab.in/2016/09/07/indian-diet-chart-for-weight-gain-in-hindi/

  14. Hi.
    Sir main body banana chahta hoon but main pichle 24No ko hydrocele ka opration karwaya hoon to mujheko opration ke 1month ho chuke hain kya main zym ja sakta hoon

  15. सर जी में जिम जाता हु में यह जानना चाहता हु की कोण कोण सी एक्सरसाइज साथ में नहीं करनी कहिये
    जेसे में चेस्ट के साथ बाइसेप्स कर सकता हु

    • इसका कोई नियम नहीं है। हम लोग तो सभी कसरतें मिलाकर करते हैं। मगर कायदा ये है कि आप एक दिन में एक बॉडी पार्ट करें, बस डबल बॉडी पार्ट करने की सलाह हम आमतौर पर नहीं देते क्योंकि लोगों की डाइट और उनका आराम कम होता है।

  16. Sir, i hv been going to gym for 3 years….my all over body is good but my chest muscles are not increasing…i have done all the chest exercises but the result is none…what should i do??
    and i don’t want to take any body suppliment

    • ये जरूरी तो नहीं हर बॉडी पार्ट बहुत अच्छे से ग्रो करे। अगर आपकी चेस्ट ग्रो नहीं कर रही तो हो सकता है उसकी वजह ओवर एक्सरसाइज हो। जिस भी बॉडी पार्ट के पीछे भागेंगे वो ग्रो करने की बजाए डेड होने लगेगा। उसे छोड़ दें ऐसे ही। बाकी बॉडी पार्ट पर वर्क करें और जब उसका नंबर आए तो नार्मल कसरत करें। चेस्ट के लिए अलग से न तो कोई डाइट होती है न कोई सपलीमेंट।

  17. सर क्या मुझे आप का whatsapp no. मिल सकता है ?

    • सॉरी

      • सर में आप से बहुत सारी सलाह लेना चाहता हूँ please sir…

        • ये लिखने की बजाए आधे सवाल कर लिए होते तो आज ही आपको जवाब मिल जाते। आपको जो पूछना है बेधड़क पूछें। अब जब अगली बार आपका नंबर आएगा तो जवाब मिल जाएंगे।

  18. shubham vashishth

    Hlo sir
    Mujhe cnfrm gym jate 1saal ho gya h. Mera weight phle 56 kg tha or meri height 6feet h. Ab mera weight 79 kg h. To simple si baat weight k sath pet bhi nikl aaya h to m mya kru ki pet pr saara fat bhi khtm ho jaye or muscles bhi down na ho. Kyoki mnne abhi tk koi supplement nhi liya. To jase m pet ko km krne ki kosis krta hu to uska sidha asr mere biceps or chest pr pdta h or excercise me weight bhi km lgta h.. I’m so confused right now… Plz tell me

    • अभी आप पेट को कंट्रोल में रखने की कोशिश करेंं और गेनिंग करते जाएं जब आपका साइज बढ़िया हो जाए तो फिर कटिंग करें।

  19. वेट लिफ्टिंग किस उम्र से करना चाहिए औऱ क्यों

    • 18 साल की उम्र से आप इसे शुरू कर सकते हैं। क्यों का जवाब ये है कि आपकी मर्जी आपको वेट लिफ्टर बनना है तो करें, आपको बॉडी बिल्डर बनना है या आपको मजबूत कद काठी चाहिए तो करनी होगी।

  20. Mujhe 3 ya 4 inch height bdani h kya kru

  21. Hello sir .. m confused over things to eat before and after workout.. aap bataiye kya kya chije pehle khayi ja skti hai aur kaun c baaf mein..

    Aur kya paani ko din bhar bahut thoda thoda karke pina hta hai .. ya normal tarike se???

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *