Home / FIT FIGURE / ये कमर सिर्फ क्रंचेस से नहीं मिलती

ये कमर सिर्फ क्रंचेस से नहीं मिलती

जब भी बात पेट कम करने की होती है तो लोगों के दिमाग में क्रंचेज का ही ख्याल आता है। लोग एक के बाद दूसरी और दूसरी के बाद तीसरी और उसके बाद एंगल बदलकर, सीट बदलकर धकाधक क्रंचेज लगाते हैं। एक्सरसाइज तो ये भी अच्छी है पर एक सच आज आप जान लें कि सिर्फ क्रंचेज से मोटा पेट नहीं जाता। यह कोई रामबाण कसरत नहीं है। अगर आपको फैट कम करना है तो उसके लिए कई कसरतें करनी होंगी, कई तरह से करनी होंगी। रेस्ट भी देना और पेन भी लेना होगा।

crunches-for-webक्यूं की क्रंचेस की बुराई?

क्रंचेज में पेट के एक बहुत ही छोटे से हिस्से की एक्सरसाइज होती है, ज्यादातर में अपर एब्स और कुछ में लोअर एब्स। चंद कसरतों को छोड़ दें तो बाकी में बॉडी की मूवमेंट बहुत सीमित दायरे में होती है और ज्यादातर लोग छोटे मूवमेंट वाली कंच्रेज को ही ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि वो ज्यादा आसान होती है।
असर इसलिए नहीं पड़ता
ऐसा नहीं है कि क्रंचेज बेकार हैं, मगर जिन लोगों के पेट आपे से बाहर हो गए हैं उन्हें बड़े मूवमेंट की जरूरत होती है। फ्लैट पेट पर एब्स बनाने हों तो आपको क्रंचेज करने ही होंगे मगर कमरे जैसी कमर को काबू में करने के लिए आपको ऐसी कसरत को चुनना होगा जिसमें कई ज्वाइंट्स एक साथ काम करते हैं क्योंकि फैट किसी एक जगह से नहीं जाता। स्पॉट फैट रिडक्शन (Spot Fat rduction) बड़े ही एडवांस लेवल की बात है, यह सिक्स पैक एब्स या फ्लैट एब्स वालों के काम आती है। ऐसा नहीं हो सकता कि आपने कोई इलाका चुन लिया और वहां की कसरत करके वहां का फैट गला लिया। आपकी पूरी बॉडी से फैट कम होगा तो ही कमर स्‍िलम होगी।
तो क्या करें
पहले तो अपने फैट और अपने पेट को समझें। पेट को मोटे तौर पर हम तीन हिस्सों में बांट सकते हैं। अपर एब्स (upper abs), लोअर एब्स (lower abs) और साइड्स। आपकी नाभि तक के हिस्से को हम अपर एब्स में गिनते हैं। नाभि और नीचे के हिस्से को लोवर एब्स और साइड टायर्स तो आप जानते ही हैं। पेट पर से फैट कम करने के लिए आपको इन तीनों हिस्‍सों की अलग अलग कसरत करने के अलावा बाकी शरीर की कसरत भी करनी ही होगी। इसके बिना फैट कम नहीं होता। चेस्ट, शोल्डर, आर्म्स, लेग्स सभी बॉडी पार्ट पर ध्यान देना होगा।
ज्यादातर वक्त आप कोशिश करें ऐसी कसरत को चुनने की, जिसमें ये तीनों हिस्से एक साथ एक्टिव हों। आप हर दिन के हिसाब से एक्सरसाइज के इस शेड्यूल को फॉलो कर सकते हैं।

1 होल एब्स के साथ लोवर एब्‍स, साथ में बाकी बॉडी
2 होल एब्स के साथ अपर एब्स, साथ में बाकी बॉडी
3 होल एब्स के साथ साइड्स, साथ में बाकी बॉडी

इसे ऐसे समझ सकते हैं
रनिंग, हैंगिग लेग रेज और बेंच प्रेस का उदाहरण लेकर चलते हैं। रनिंग में पूरे पेट (होल एब्‍स) पर काम होता है, यह फैट कम करने की सबसे पसंदीदा कसरत है। हैंगिग लेग रेज लोवर एब्स पर काम करती है और बेंच प्रेस आपकी बाकी बॉडी की कसरत हो गई। यहां आप कसरतें बदल सकते हैं, उनकी गिनती बदल सकते हैं, पर कसरत करने का तरीका नहीं। इसी तरह आप चाहे तों एक दिन स्किपिंग और क्रंचेस के साथ बैक की कसरत कर सकते हैं। या फिर तीसरा ऑप्शन से भी है कि आप साइकिलिंग, डंबल साइड बेंडिंग और लेग्स की एक्‍सरसाइज करें। कहने का मतलब ये है कि पेट कम करने के लिए आपको पेट के अलावा बाकी बॉडी पर भी पूरा-पूरा ध्यान देना होगा। एब्स की किसी एक एक्सरसाइज को रोज-रोज न किया करें उसमें बदलाव भी जरूरी है।

Check Also

अगर आपको स्तनों से जुड़ी कोई बीमारी नहीं है तो ब्रेस्‍ट का साइज बढ़ाया जा सकता है।

2 महीने में ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के 10 बेस्ट घरेलू उपाय

बड़े अच्छे लगते हैं। ये बात उन महिलाओं से बेहतर कौन समझ सकता है जिनके ...

6 comments

  1. Sar mera name khushal he me mass gainer leta hun or me deit bhut kam he khana mujse bhut kam khaya jata he but thoda thoda karkr 5 baar din me kha leta hun mera thoda pet bhar aa gya he he me week me 3 baar pet under karne ki exize bhi karta hun but body gain ho rahi he but pet under nai ho rha he

    • पेट की जितनी कसरत हो सकती है करें। उसके पीछे न भागें अभी आपकी गेनिंग चल रही है चलनें दें। सपलीमेंंट बंद करने के बाद कुछ पेट कम होगा और कुछ पेट कसरत करते करते कम हो जाएगा।

  2. Kumar vipin yadav

    sir mera pet कमर se 5 Inche bahar h mera weight 64 h par गाल bahut चपके चपके है
    kya kru please

  3. Sir meri bady ka weight phale 69 tha meri age 23 saal h mai bahut try weight loss krne ko but hua nhi diet plan itna ho nhi pata hmse kya green coffe se weight km ho skta h Thai nd pet mai jaida h

    • नहीं ऐसा नहीं है कि ग्रीन कॉफी से अचानक आपका वजन कम होने लगेगा। वजन कम करना इतना आसान काम नहीं होता। हमें लगातार बदलाव करते रहना होना है, नई चीजें ट्राई करना होता है। सबसे बड़ा रोल डाइट का होता है। आपको एक डाइट चार्ट दे रहा हूं देखें उसे – http://www.bodylab.in/2016/08/24/diet-chart-for-weight-loss-for-female-in-hindi/

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *