Home / BODY BUILDING / Muscleblaze whey gold के लाभ, साइड इफेक्ट और डोज की पूूरी जानकारी

Muscleblaze whey gold के लाभ, साइड इफेक्ट और डोज की पूूरी जानकारी

जिम जाने वाले किसी शख्‍स के बैग की तलाशी ली जाए तो उसके बैग से एक शेकर और व्हे प्रोटीन (Whey protein) जरूर निकलेगा। ये इतना पॉपुलर सपलीमेंट है कि जिन लोगों को इसकी जरूरत नहीं होती वो भी इसे यूज करते हैं। व्हे प्रोटीन की मार्केटिंग ही कुछ इस तरह से की गई है कि अगर ये नहीं होगा तो बॉडी नहीं बनेगी। हालांकि ये सच नहीं है। बहरहाल आज मुद्दा ये नहीं है आज हम Muscleblaze whey gold (isolate) के बारे में बात करने जा रहे हैं। हम इस प्रोडक्ट का रीव्यू (review) करेंगे। हमारा मकसद ये देखना है कि मसलब्लेज व्हे गोल्ड क्या है, इसके फायदे क्या हैं। किन लोगों को ये व्हे प्रोटीन यूज करना चाहिए और किन लोगों के काम का ये नहीं है।

क्या है Muscleblaze whey gold

मसलब्लेज व्हे गोल्ड के एक स्कूप का साइज 30 ग्राम है और इसके एक स्कूप में 25 ग्राम प्रोटीन होता है। परसेंट के हिसाब से देखें तो 100 ग्राम Muscleblaze Whey isolate में 82% प्रोटीन होता है। कंपनी के मुताबिक, इसकी एक सर्विंग में 5.5 ग्राम बीसीएए (bcaa) और 4.38 ग्राम ग्लूटामिक एसिड होता है। हम जिस प्रोडक्‍ट की न्यूट्रिशन वैल्यू की बात कर रहे हैं वो रिच मिल्क चॉकलेट फ्लेवर है। फ्लेवर बदलने पर कई बार न्यूट्रिशन वैल्यू में थोड़ा फर्क आ जाता है। इसकी एक सर्विंग में 0.46 ग्राम फैट और 121.20 एमजी सोडियम है। यह प्रोडक्‍ट ब्राइट लाइफ केयर कंपनी का है। यह कंपनी भारतीय है।

कैसे करें इसका यूज

– व्हे प्रोटीन को नाश्ते और खाने के बीच में यूज करें। यह सबसे सही तरीका होता है इसे इस्‍तेमाल करने का।
– आप इसे वर्कआउट के बाद भी ले सकते हैं। 180 से 200 एमएल पानी या दूध में एक स्कूप मिलाएं और बहुत अच्छे से करीब 60 सेकेंड तक शेक करने के बाद पिएं।
– इसे आप शेक में भी डाल सकते हैं। इससे न्यूट्रिशन वैल्यू बढ़ जाती है।
– इसमें आप ग्लूटामिन और क्रेटीन भी मिला सकते हैं।
– इसके यूज के बारे में कंपनी का तो ये कहना है कि रात को सोने के दौरान बॉडी 6 से 8 घंटे तक इनएक्टिव रहती है। प्रोटीन न होने की वजह से एनर्जी हासिल करने के लिए मसल्स ब्रेक डाउन होने लगता है, इसलिए सुबह सुबह इस प्रोटीन को यूज करें। हालांकि मैं इसकी सलाह नहीं देता। ऐसा करना गलत नहीं है मगर इससे आप अपने प्रोटीन के डिब्बे को बहुत जल्दी खत्‍म कर देंगे। ये काम तो एक कटोरी ओट्स भी कर सकते हैं। अगर आप बॉडी बिल्डिंग में हैं तो सुबह उठकर फ्रेश होने के बाद कुछ न कुछ जरूर खा लेना चाहिए, बस इतना काफी है।

कितना व्हे प्रोटीन इस्तेमाल करना चाहिए

आपको एक दिन कितना प्रोटीन यूज करना है ये आपके बॉडी वेट और इस बात पर डिपेंड करता है कि आप गेनिंग कर रहे हैं या कटिंग। बहरहाल मसलब्लेज के एक स्कूप में 30 ग्राम प्रोटीन पाउडर आता है। यानी एक स्कूप से आपको 25 ग्राम प्रोटीन मिल जाता है। अगर आपकी जरूरत 100 ग्राम प्रोटीन की है तो आपके लिए 1 से 1.5 स्कूप ही काफी है क्योंकि बाकी आपको नेचुरल तरीके से लेना होगा। आप ऐसा नहीं कर सकते कि आपकी जरूरत 100 ग्राम की है तो आप सब पाउडर से ही लें। इसमें आमतौर पर 40:60 का रेशो ठीक रहता है। यानी 40% प्रोटीन सपलीमेंट से और 60% प्रोटीन डाइट से हासिल करें।

किन्हें यूज करना चाहिए

Muscleblaze whey gold ऐसे लोगों के लिए ज्यादा ठीक है जो कटिंग पर हैं या लीन गेन पर हैं या जो लोग वेट लॉस कर रहे और डाइटिंग पर हैं। वेट लॉस करने वाले लोग अपनी प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने के लिए आइसोलेट का इस्तेमाल करते हैं, क्योंकि इसमें फैट बहुत कम होता है।

Related – प्रोटीन पाउडर कब लें और कितनी बार लें

किनके लिए ठीक नहीं है ये सपलीमेंट

जैसा कि मैं ऊपर बता चुका हूं कि Muscleblaze Whey Protein Isolate, whey gold ऐसे लोगों के सही है जो कटिंग या लीन गेन पर है। यह ऐसे लोगों के लिए ठीक नहीं है जो बहुत दुबले पतले हैं और वेट गेन कर रहे हैं। ऐसा नहीं है कि इसका यूज करने से उन्हें कोई नुकसान होगा मगर उन्हें शुरू में वेट गेनर या व्हे प्रोटीन ब्लेंड का इस्तेमाल करना चाहिए। आइसोलेट दरअसल व्हे प्रोटीन की सबसे प्योर फॉर्म होती है वजन और साइज बढ़ा रहे लोग अक्सर डाइट में अच्छा खासा फैट लेते हैं फिर ऐसे में ये महंगा पड़ता है।

चेतावनी
1 यह प्रोडक्ट दूध से बना है। इसलिए यह ऐसे लोगों के लिए ठीक नहीं है जिन्हें लेक्टोज से दिक्कत होती है।
2 प्रेगनेंट महिलाओं और किसी बीमारी से जूझ रहे लोगों को इसका यूज करने से पहले डॉक्टर से पूछ लेना चाहिए। जो महिलाएं बच्चों को दूध पिला रही हैं उन्हें भी इसका इस्तेमाल डॉक्टर से पूछ कर करना चाहिए।
3 जितनी डोज की सिफारिश की गई है उससे ज्यादा यूज न करें।

Side effects of Whey protein – व्हे प्रोटीन के साइड इफेक्ट

व्हे प्रोटीन वैसे तो काफी सेफ होता है मगर इसके कुछ साइड इफेक्ट हैं जो आमतौर पर ओवरयूज और लिवर ठीक न होने की वजह से पैदा होते हैं। इसके प्रमुख साइड इफेक्ट में बॉडी पर गांठ बनना, किडनी स्टोन, ब्लड में एसिड बढ़ना, सांसों में घरघराहट होना, गले व चहेरे पर सूजन, मन खराब होना, डायरिया और डाइजेशन से जुड़ी दिक्कतें शामिल हैं। मोटे तौर पर व्हे प्रोटीन के कुल 10 प्रमुख साइड इफेक्ट होते हैं।

On Whey Gold Vs. Musleblaze Whey Gold

Optimum Nutrition टॉप इंटरनेशनल ब्रांड में शामिल है और Muscleblaze टॉप इंडियन ब्रांड में शामिल है।
On Whey Gold Vs. Musleblaze Whey Gold

अगर इन दोनों प्रोडक्ट को कंपेयर करें तो ऑन के मुताबिक उनके व्हे गोल्‍ड के एक स्‍कूप में 24 ग्राम प्रोटीन है, जबकि मसलब्लेज के मुताबिक उनके एक स्कूप में 25 ग्राम प्रोटीन है। वहीं ऑन के गोल्‍ड के स्कूप से 120 कैलोरी मिलती है और मसलब्लेज के एक स्कूप से 110.32 कैलोरी मिलती है। ऑन की प्रोडक्‍ट डिटेल में कैल्शियम और आयरन को अलग से मेंशन किया है जबकि मसलब्लेज के गोल्‍ड की न्यूट्रीशन टेबल में इसका जिक्र नहीं है। Optimum Nutrition टॉप इंटरनेशनल ब्रांड में शामिल है और Muscleblaze टॉप इंडियन ब्रांड में शामिल है।
इनकी कीमत में अच्छा खास अंतर है। Muscleblaze Whey gold 4.4 lb यानी 2 किलो 4500 रुपए में मिल जाता है। वहीं On Gold whey isolate 5 lb यानी 2.27 किलो करीब 6800 रुपए में मिलता है। यहां ध्यान देने वाली बात है कि ऑन के दाम के साथ साथ उसका वजन भी ज्यादा है। भारत में ऑन का प्रोडक्ट अमेरिका से आता है और मसलब्लेज यहीं बनता है।

Check Also

पूरा बाजार नकली व्हे प्रोटीन पाउडर से भरा हुआ है, मगर आप इन 4 तरीकों से नकली प्रोटीन की पहचान कर सकते हैं। बार कोड स्कैन करें।

नकली प्रोटीन की पहचान कैसे करें? 11 तरीके

बॉडी बिल्डिंग में मदद करने वाला सबसे कारगर सपलीमेंट अगर कोई है तो वो व्हे ...

15 comments

  1. sir mai whey protein ko sone se pehle lene ke time meal 6 me milk ke saath le sakta hu kya kyuki warer ke saath ye jaldi absorb ho jata hai aur sone ke baad body ko zyada der tak protein nahi mil pata milk ke saath lene pe shayed ye thoda slow ho jaye

  2. Hppy new tear sir!
    Sir back ki kastat btao without nachine kyuki mere pass sir sirf free weight hai. Bant over barball row dead lift chinups pull ups k alawa koi or best exersice ho sir plz btaye or legs ki bhi!!

    • ये हैप्पी न्यू टियर क्या होता है भाई, खैर इनके अलावा आप टी बारबेल रो कर सकते हैं।

  3. Sir aapne bataya bicep triceps ek din karna h. Tricep par jyada focus karna h Or agle din rest. To sir ye bataye ki gaining me bicep tricep wale din triceps ki kitni exercise or biceps ki kitni karni h.jaise agar triceps par jyada dhyan dena h to 3 triceps ki or 2 biceps ki exercise karni h . Total 5 hogi . Par bulking me 3 se 4 hi karni hoti h. To sir kitni exercise biceps triceps ki karni chaiye gaining k liye

    • 5 एक्सरसाइज करें, दो बाइसेप्स और 3 ट्राइसेप्स। ये ज्यादा नहीं है क्योंकि ये मसल्स ग्रुप काफी टफ होता है। जिन लोगों को लंबा टाइम हो गया कसरत करते हुए वो लोग चार चार एक्सरसाइज करते हैं बाइसेप्स और ट्राइसेप्स की।

  4. Sir,haivy waight kaise uthaya jaaye..

    • इसका कोई फॉर्मूला तो है नहीं धीरे धीरे आप अपने आप हैवी वेट की ओर बढ़ते रहेंगे। कभी कभी खूब हैवी वेट लिया करें और उसका एक या दो रैप ही निकाल कर रख दिया करें इससे पावर बढ़ेेगी।

  5. Sir waite ke hisabse weit se dugna protin lete hai to
    Par day sapliment se kiyan protin lena thik rahega aur kam se kam or jyada se jyda kitna le sakte hai
    Or kitna lense side effect hota hai

    • अगर आप एक्सरसाइज कर रहे हैं तो बॉडी वेट के एक किलो पर एक से डेढ़ ग्राम प्रोटीन ले सकते हैं। प्रोटीन पाउडर और नेचुरल डाइट से मिलने वाले प्रोटीन में 60 और 40 का रेशो होना चाहिए। यानी 60 परसेंट प्रोटीन नेचुरल डाइट से और 40 परसेंट सपलीमेंट से।

  6. वर्कआउट के बाद लें और हां प्रोटीन लेने का कोई टाइम गलत नहीं होता। ये आपकी बॉडी की जरूरत और आपकी टाइमिंग पर डिपेंड करता है।

  7. sir kya alfalfa tonic vajan bada sakta hain kya…
    kya aayurved or homeopathic medicine se vajan badaya ja sakta hain…
    hypothyroidism vajan naa badne ka mukhya karna ho sakta hain kya
    ek baat bolni thi Aap youtube par apna channel kyu ni banate…

    • इस दवा के बारे में सुना है कि इससे वजन बढ़ता है। देखो कोई भी दवा प्रोटीन और कार्ब का काम नहीं कर सकती। दवा केवल भूख बढ़ाती है, पाचन बढ़ाती है या प्रोटीन का एब्‍जॉब्‍पर्शन बढ़ाती है, विटामिनी की कमी पूरा करती है। हमें डाइट तो लेनी ही होगी। अंडे, दूध, दही, चिकन, फिश, राजमा, मूंग, केले, आलू से ही हमारा शरीर बनात है। आप चाहें तो इस दवा को यूज करें मगर याद रखें अपनी डाइट सही रखें। यू ट्यूब चैनल खोला है तो मगर आज तक उसमें केवल एक वीडियो ही डाल पाया हूं टाइम ही नहीं मिलता। bodylabindia के नाम से है, बस एक वीडियो डाला है चेस्ट की एक्सरसाइज की।

  8. Me Myprotein brand ka impact whey lene ke soch raha hu…..ya sahi hai body gain k liye….

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *