Home / BODY BUILDING / Niacin का बॉडीबिल्डिंग में यूज, डोज और साइड इफेक्ट्स

Niacin का बॉडीबिल्डिंग में यूज, डोज और साइड इफेक्ट्स

बॉडीबिल्डिंग और ड्रग्स का नाता पुराना है, इसमें कई तरह की दवाएं और कई तरह की दवाओं के कॉम्बिनेशन का मिसयूज किया जाता है। बॉडीबिल्डर जिन दवाओं को यूज करते हैं उन्हीं में से एक दवा है Niacin इसे लोग नाइसिन और नियासिन दाेनों तरीके से बोलते हैं। इस दवा को आमतौर पर कंपटीशन या फोटोशूट से चंद दिनों पहले या चंद घंटों पहले लिया जाता है। इसकी खासियत है बॉडी को Vascularity देना। इससे आपकी नसें और उभर जाती हैं और आप ज्यादा मस्कुलर लगने लगते हैं।

What is Niacin?
क्या है नाइसिन

नाइसिन को आम भाषा में विटामिन B3 के नाम से जाना जाता है। इस विटामिन की भी कई फॉर्म हैं, जिनमें से एक होता है नियासिन। यह एक ऑर्गनिक कंपाउंड है जो बीन्स, अंडे, दूध, मीट खासतौर पर चिकन ब्रेस्ट और हरी सब्‍जियों वगैरा में पाया जाता है। यह विटामिन एक सपलीमेंट के तौर पर भी मिल जाता है। विटामिन B3 एक हेल्दी डीएनए को सपोर्ट करने के लिए जरूरी होता है। हालांकि इनमें भी केवल नियासिन में कॉलेस्‍ट्रॉल के पैरामीटर को बदलने की ताकत होती है।

विटामिन बी3 खासतौर पर HDL कॉलेस्‍ट्रॉल को बूस्ट करने और LDL कॉलेस्ट्रॉल को कम करने का काम करता है। इस विटामिन से आपका नर्वस सिस्टम ठीक से काम करता है। ये प्रोटीन और फैट को एनर्जी में तब्दील करने में भी रोल अदा करता है और लिवर, आंखों, बाल और स्किन के लिए जरूरी होता है।

Bodybuilding and Niacin
बॉडीबिल्डिंग और नाइसिन

बॉडीबिल्डिंग में नियासिन का लंबे टाइम से यूज हो रहा है। यह शॉर्ट टर्म रिजल्ट लाने के लिए ज्यादा पॉपुलर है। हालांकि यह लॉन्‍ग्‍ा टर्म में भी रिजल्‍ट देता है। शॉर्ट टर्म में यह कंपटीशन वगैरा से पहले बॉडी की नसें चमकाने का काम करता है और लॉन्ग टर्म यूज में फैट फ्री मसल्स डेवलप करने में मदद करता है। हालांकि लॉन्ग टर्म का मतलब तीन महीने ही होता है। इसे हम आगे एक्सप्लेन करेंगे।

Niacin flush
नाइसिन फ्लश

नाइसिन बॉडीबिल्डिंग में तब काम आती है जब कोई उसकी ओवरडोज लेता है। इसे ही नियासिन फ्लश कहते हैं। वैसे तो इसका सबसे अच्छा तरीका यही है कि आप ऐसे फूड खाएं, जिनमें नियासिन ज्यादा होता है। मगर आप और हम जानते हैं कि एडवांस लेवल पर जिम कर रहे लोग आमतौर पर दवाओं से परहेज नहीं करते।

नाइसिन की डोज लेने से बहुत कम टाइम में ब्‍लड फ्लो बढ़ने लगता है। खासतौर पर ऐसे बॉडी पार्ट में ज्यादा ब्लड फ्लो होने लगता है, जिसको आप ट्रेन कर रहे होते हैं। नसें फूलने लगती हैं और बॉडी में पहले के मुकाबले Vascularity काफी बढ़ जाती है। यही वजह है कि लोग किसी फोटोशूट से पहले या मुकाबले से पहले इसकी डोज लेते हैं।

Niacin Benefits / नाइसिन के लाभ

Muscles growth – मसल्स ग्रोथ
नाइसिन को मसल्स ग्रोथ का विटामिन भी कहा जाता है। इसके लॉन्‍ग टर्म यूज से ग्रोथ हार्मोन का प्रोडक्शन बढ़ता है। ये तो जाहिर ही है कि मसल्स और स्ट्रेंथ बढ़ाने के लिए ग्रोथ हार्मोन जिम्मेदार होते हैं। वैसे तो बॉडी बिल्डर जब कसरत करते हैं तो ग्रोथ हार्मोन रिलीज होते हैं मगर कहा जाता है कि इसके साथ जब niacin flush भी जुड़ जाता है तो और अच्छे रिजल्ट आते हैं। इसके लिए कसरत से एक घंटे पहले और कसरत के तीन घंटे बाद नियासिन की बराबर डोज ली जाती है। हालांकि यहां पर हम ये भी क्लियर कर देते हैं कि ग्रोथ हार्मोन बढ़ाने के लिए मकसद से नियासिन लेना फायदे का सौदा नहीं है।

Energy – एनर्जी

इसे प्री वर्कआउट सपलीमेंट की कैटेगरी में भी डाला जा सकता है। इसकी वजह ये है कि नाइसिन लेने के चलते बॉडी में एनर्जी लेवल बढ़ जाता है। इससे कसरत करने की कैपेसिटी में इजाफा हो जाता है। यह कार्बोहाइड्रेट को एनर्जी में बदलने में बॉडी की मदद करता है। कहा जाता है कि जिन बॉडी बिल्डर की बॉडी में कॉलेस्‍ट्रॉल का लेवल हाई रहता है उनके लिए भी ये सपलीमेंट ठीक है।

Digestion – डाइजेशन

कहा जाता है कि नियासिन खाना हजम करने की ताकत को भी बढ़ाता है। जहां तक बॉडी बिल्डरों का सवाल है तो उन्हें काफी कुछ और काफी क्वांटिटी में खाना होता है। बेस्वाद खाना तो उनकी किस्‍मत का हिस्‍सा है। इसके अलावा इतना प्रोटीन वगैरा लेने से कई बार डाइजेशन से जुड़ी परेशानियां सामने आने लगती हैं। यह विटामिन डाइजेस्टिव सिस्टम को नॉर्मल रखने में मदद करता है। यह भूख भी बढ़ाता है। यह भी एक वजह है जिसके चलते बॉडी बिल्डर नाइसिन को यूज करते हैं। असल बात ये है कि यह डाइजेशन को मेनटेन नहीं करना बल्‍कि भूख बढ़ाता है क्योंकि एनर्जी जनरेशन ज्यादा हो जाता है।

Dose of Niacin
नाइसिन की डोज

बॉडीबिल्डिंग में इसकी डोज 50 एमजी से 500 एमजी तक चली जाती है। हालांकि यह दवा का मिसयूज ही है क्योंकि एक आम शख्स के लिए 15 एमजी नाइसिन रोज काफी है जो हमें खाने पीने से मिल ही जाता है। हाई डोज लंबे समय के लिए नहीं होती वो शॉर्ट टर्म के लिए होती है और जो लोग रेगुलर कसरत करते हुए इसे लॉन्ग टर्म में यूज करते हैं वो 150 एमजी के आसपास की डोज चलाते हैं। वैसे 150 एमजी से ऊपर के यूज पर ही नियासिन फ्लश का इफेक्ट आमतौर पर नजर आता है। बॉडी में नियासिन की डोज ज्यादा हो जाने पर जो कंडीशन पैदा होती है उसे नियासिन फ्लश कहते हैं। यानी आपकी बॉडी में ब्लड फ्लो का बढ़ाना और आपकी नसें चमकना।

Side effects of niacin
नाइसिन के साइड इफेक्ट

जिस भी चीज के इफेक्ट होते हैं उसके साइड इफेक्ट तो होते ही हैं। जैसे
– चेहरे का खिंचाव
– खुजली
– ब्लड शुगर का बढ़ना
– हार्मोनल बदलाव
– लिवर को नुकसान
– पेट में गैस होना
– वजन कम होना
– जी मिचलाना

Bottom line

नाइसिन एक अच्छा सपलीमेंट है मगर अभी तक जो स्टडी हुई हैं उनके मुताबिक, इसे बहुत लंबे टाइम के लिए इस्‍तेमाल करना ठीक नहीं है और इसकी जरूरत भी नहीं। किसी शॉर्ट टर्म मकसद को पाने, फोटाेशूट से पहले या कटिंग पीरियड में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है बाकी टाइम इसे एक सपलीमेंट के तौर पर लेते रहना ठीक नहीं है। ये आपके बॉडी सिस्‍टम पर गैर जरूरी बोझ डालता है। बॉडी बिल्डिंग एक्सपर्ट कहते हैं कि किसी भी बॉडी बिल्डर को 1 ग्राम से ज्यादा डोज लंबे समय के लिए नहीं लेनी चाहिए।

इस तरह से हम कुल मिलाकर देखें तो niacin एक ऐसा प्रोडक्ट है जो आपको वस्कुलैरिटी देता है, मगर इसका यूज बहुत लंबे टाइम के लिए करना ठीक नहीं है। आप कटिंग पीरियड यानी दो से तीन महीने के दौरान इसे चला सकते हैं। या फिर हाई डोज लेकर फोटोरशूट करवा सकते हैं। यह प्रोडक्ट ऐसे लोगों के लिए ठीक है जो लंबे समय से जिम के मंझे हुए खिलाड़ी हैं, जिनका बदन गठीला है या जो कटिंग पीरियड पर हैं। मोटे लोग अगर इस इरादे से नियासिन लेने की सोचें कि इससे वह फैट लॉस करेंगे और बदन की नसें दिखने लगेंगी तो उनका यह फैसला बहुत सही नहीं होगा। मोटे लोग फैट बर्नर चलाएं न कि नाइसिन।

 

 

Check Also

GHRP-6 एक पेप्टाइड है, जो हमारी बॉडी को ग्रोथ हार्मोंस रिलीज करने के लिए उकसाता है। इसकी डोज दिन में तीन बार और एक बार में 5 आईयू होती है। इसके साइड इफेक्ट में गुस्सा और तेज भूख लगना शामिल है।

GHRP 6 के लाभ और साइड इफेक्ट

Ghrp 6 (Growth Hormone Releasing Hexapeptide) इन दिनों बॉडी बिल्डिंग में धड़ल्ले से यूज हो ...

17 comments

  1. jai bharat sir
    sir subh ande khane chaye to ande k sath or kya khana h .,… mtlb ande k sath chae leni h dudh lena h sek lena h ya kuch or….

    • अंडे के साथ दलिया, सलाद ब्रेड बटर भी ले सकते हैं।

  2. Sir aap ye btaye agra compition se kitne din phele water pina band karna chaye

  3. BHAi 4 month se regular testastorone chal rha or pahle bhi androlic ya fir testa ki inject chale the kabhi ptc nhi ki …. ab bal jadh rahe h or 14 aug se 19 aug compition hai kya karu balo ke jdhna rokne ke liye

    • भाई आपने कोर्स खत्म होने के बाद पीसीटी की थी या नहीं अगर नहीं की तो कर लें। बाकी रही बात बाल झड़ने की तो भाई ये स्टेरॉइड का साइड इफेक्ट है और इसके लिए आपको डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

      • kbhi bhi nhi ki .mai 2 year se stiroid le rha hu kbhi 2 mhine ka gap de diya kbhi 3 mhine ka. kya ab pct kam kregi kya mere ya fir nhi

        • अभी हाल फिलहाल में कोई कोर्स पूरा किया हो तो कर सकते हैं नहीं तो रहने दें।

  4. hi sir aap please mujhe daily formula universal nutrition multivitamins ke bare me btaye please sir kya ye sahi hai

  5. Sir meri 24 years h or suru se lekr ab tk mera waifht 51 se uper kbhi gya hi nhi sb krke dekh liya sarir me koi bimari bhi nhi sb chek krvaaya hua h doctar se m apna waight 80kg chahta hu nd best body plj tell me

  6. हेलो सर मेरा नाम अंकित है सर मैं 10 किलोमीटर दौड़ता हूं सर मैं इंजेक्शन ले सकता हूं यह क्या फायदा करेगा और कंपटीशन से कितने दिन पहले लेना चाहिए प्लीज बता दीजिए.

    • हम स्टेरॉइड को लेकर कोई सलाह नहीं देते। हालांकि रनिंग के लिए लोग आमतौर पर Winstrol/Stanozolol और Anavar का मिसयूज करते हैं। इसे रनिंग वाले दिन से एक दिन पहले लोग लगा लेते हैं।

  7. My self Nitin

    Sir, before 2 -3 days of Bodybuilding Contest we stop taking water and on contest day or one day before we load Carb, So my question is from or on which Day niacin should load. Please reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *