Home / HEALTH NEWS / Diarrhea | डायरिया से कैसे बचें और हो जाने पर क्या करें

Diarrhea | डायरिया से कैसे बचें और हो जाने पर क्या करें

Diarrhea डायरिया या अतिसार पेट खराब होने की ऐसी स्थिति है, जिसमें पीड़ित व्यक्ति को दिन में कई बार पानी की तरह पतला मल आता है। इसे आम बोलचाल की भाषा में दस्त या लूज मोशन कहते है। Diarrhea की वजह से व्यक्ति के शरीर में मौजूद पानी और इलेक्ट्रोलाइटस ( सोडियम और पोटैशियम जैसे मिनरल्स ) दस्त के साथ अत्यधिक मात्रा में निकल जाते हैं। इससे उसके शरीर का इलेक्ट्रोलाइटस का संतुलन बिगड़ जाता है और डीहाइड्रेशन हो जाता है। हम आपको बता रहे हैं कि आप डायरिया से कैसे बचें और हो जाने पर क्या करें । 

causes डायरिया के कारण

गर्मी के मौसम में खाना संक्रमित हो जाता है। बैक्टीरिया से संक्रमित खाना खाने से, तला- भुना या ज्यादा मसाले वाला खाना खाने से , बासी तथा बाहर का खाना या कटे फल खाने से, दूषित पानी पीने से, साफ – सफाई का ध्यान न देने से और समय- असमय खाने से अक्सर अपच या बदहजमी की समस्या हो जाती है। अपच खाना दस्त के रूप में शरीर से बाहर आ जाता है। ऐसे में शरीर से पानी भी निकल जाता है और डायरिया की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। इस मौसम में पानी की सफाई पर खास जोर देना चाहिए। गंदा पानी पीने से पेट खराब होने की पॉसिबिलिटी बहुत बढ़ जाती है।

symtoms डायरिया के लक्षण

आयुर्वेद में डायरिया को वात, पित्त और कफ से जोड़ कर देखा जाता है। दस्त तब होता है, जब जठराग्नि कमजोर होती है और भोजन को पचाने की प्रक्रिया धीमी पड़ जाती है। खाना खाने में लापरवाही बरतने और गलत आदतों की वजह से शरीर में त्रिदोष असंतुलन पैदा हो जाता है, जो डायरिया का कारण बनता है।

Treatment इलाज

गर्मी के मौसम में हमारे शरीर का पाचन तंत्र कमजोर हो जाता है। अगर हम तला- भुना गरिष्ठ खाना अधिक खाते हैं तो इसका अस हमारे पाचन तंत्र पर जरूर पड़ेगा और आज नहीं तो कल दस्त की समस्या तो होगी ही। इसलिए यह जरूरा है कि इस मौसम में खाने पीने का खास ख्याल रखा जाए—

1. गर्मी के मौसम में एक बार में पूरा भरपेट न खा कर थोड़ा- थोड़ा खाएं। कम घी- तेल वाला हल्का और ताजा खाना खाएं।
2. जहां तक हो तला- भुना और मसालेदार खाने से बचे।
3. गर्मी से राहत पाने के लिए कोल्ड ड्रिंक्स की बजाय नींबू पानी, नारियल पानी, छाछ, फलों का जूस, ठंडाई या फिर शेक ज्यादा से ज्यादा पिएं।
4. शरीर को ठंडक देने वाले और इलेक्ट्रोलाइट संतुलन बनाए रखने वाले आहार ज्यादा से ज्यादा खाएं जैसे– खीरा, ककड़ी, तरबूज, खरबूज आदि अधिक मात्रा में खाएं।
5. बाजार में मिलने वाले पहले से कटे हुए फल बिल्कुल न खाएं।
6. चटपटा खाना, खट्टे खाद्य पदार्थ या मीठी चीजें खाने से परहेज करें। ये पदार्थ Diarrhea की बिमारी को बढ़ा सकते हैं।

7 सुखाए हुए संतरे के छिलके और मुनक्के के सूखे बीज समान मात्रा में पानी के साथ पीने से दस्त बंद हो जाता है।
8 सौंफ और जीरे को बराबर मात्रा में लेकर भूनकर पीस लें और आधा-आधा चम्मच चूर्ण को पानी के साथ पीने से दस्त में आराम मिलता है।
9 चुटकीभर सोंठ एक चम्मच शहद के साथ लेने से दस्त में आराम मिलता है।
10 गर्मी के कारण दस्त हो रहे हों तो 8-10 सिंघाड़े खाकर मट्ठा पीएं, है। इससे एक दिन में आराम मिलता है।
11 कच्चे केलों को उबालकर छील लें,एक बर्तन में थोड़ा घी डालकर गर्म करें और 2-3 लौंग की छौंक देकर उसमें केले डाल दें फिर धनिया, हल्दी, सेंधा नमक मिले हुए दही को इसमें डाल दें और थोड़ा पानी डालकर पकाए, इसे खाने से दस्त में आराम मिलता है।

12 डायरिया रोग की रोकथाम में बेल का फल भी बहुत काम आता है। अगर आपके पास इसका चूर्ण है तो दो चम्मच चूर्ण दो से तीन चम्मच दही में मिलाकर रोगी को दें। इससे पेट चलना बंद हो जाएगा। बेल से किसी तरह का नुकसान नहीं होता। यह पेट को ठंडक भी देता है और उसे बांधता भी है। इससे किसी तरह का साइड इफेक्ट भी नहीं होता। जिन लोगों का पेट कमजोर रहता है उन्हें सुबह खाली पेट बेल का चूर्ण एक से दो चम्मच पानी के साथ फांक लेना चाहिए।

13 अगर किसी को दस्त लग गए हैं तो उसे थोड़े थोड़े समय पर ओआरएस का घोल या नींबू, नमक और चीनी का पानी देते रहना चाहिए। इसमें बॉडी में नमक और पानी की कमी हो जाती है। इसलिए जरूरी है कि रोगी को पानी मिलता रहे।

हमने आपको इस लेख में Diarrhea के लक्षण, कारण और इसका घरेलू उपाय Home treatment बताया है। इस लेख में आप यह जान पाएंगे कि डायरिया से कैसे बचें और हो जाने पर क्या करें। हालांकि एक बात जरूर याद रखें कि अगर पेट बहुत खराब हो गया तो डॉक्टर से मिलने में देर नहीं करनी चाहिए। यह कई बार शरीर को बहुत कमजोर कर देता है। छोटे बच्चों को तो तुरंत डॉक्टर के पास ले जाना चाहिए। बच्चों का शरीर कमजोर होता है और वो ज्यादा झेल नहीं पाते।

 

Check Also

हाई प्रोटीन के चलते हो गई बॉडी बिल्डर की मौत

जरूरत से ज्यादा प्रोटीन लेने की वजह से एक ऑस्ट्रेलियाई बॉडी बिल्डर की मौत हो ...

2 comments

  1. Dear sir,
    मैं बहुत ही उमीद लगाकर आपसे एक सवाल पूछना चाहता हु,
    सर मुझे स्व… दो… की बीमारी है मैं जब भी कुछ ज्यादा कैलोरी लेता हूं for example 1. Banana shek 2 juice
    Aur etc heavy diet
    तो मुझे यह होता ही होता है। कई बार तो एक ही सप्ताह में 3 से 4 बार हो जाता है ।
    अब मैंने 2 महीने से gymज्वाइन किया है मेरी height 5″6 है और weight gym से पहले 57 था अब मैंने 2 month में 5kg गेन कर लिया है इस 2 महीने के दौरान भी मुझे कम से कम 11 से 12 बार हो चूका है, हालाँकि मैंने 2 महीने में अच्छा cover किया है अपने आप को लेकिन यह एक मेरी एक बहुत बड़ी tension है
    Pls सर कुछ बताइये
    धन्यवाद।

    • मेरा मानना है कि आपको किसी आयुर्वेद के डॉक्टर को दिखाना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *