Breaking News

चिकन ब्रेस्ट से मिलता है 30 ग्राम प्रोटीन

सेहत की फिक्र करने वाले नॉन वेजिटीरियन लोग अपनी डाइट में चिकन को जरूर शामिल करते हैं क्योंकि इसमें खूब प्रोटीन होता है। मगर चिकन का हर पार्ट प्रोटीन से उतना भरा नहीं होता जितना चेस्ट। सबसे ज्यादा प्रोटीन चिकन चेस्ट में होता है। सौ ग्राम में 25 से 30 ग्राम। अगर आप बॉडी बिल्डिंग करते हैं, या आपको एक्स्ट्रा प्रोटीन की जरूरत है तो इस पार्ट को अपने खाने में शामिल करें। इसकी सबसे बड़ी खासियत ये है कि इसमें फैट नहीं होता। यह बाकी के मीट की तरह कॉलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाला नहीं होता। protein vala khana

ज्यादातर लोगों को गलतफहमी होती है कि चिकन का लेग बहुत अच्छा होता है, मगर ऐसा नहीं है। हालांकि ऐसा भी नहीं है कि उसमें प्रोटीन वगैरा नहीं होता मगर उसकी मात्रा चेस्ट की तुलना में कम होती है।

सौ ग्राम लेग पीस में 15 ग्राम के आसपास प्रोटीन होता है और नफा-नुकसान के बाद 10 ग्राम तक बॉडी को मिल जाता है। जो लोग डाइटिंग कर रहे हैं उन्हें लेग पीस खाने की सलाह दी जाती है।

दमदार जिम करने वाले लोगों को ढेर सारे प्रोटीन की जरूरत होती है। उन्हें काफी कुछ खाना होता है इसलिए उन्हें ये चुनना पड़ेगा कि उन्हें अपनी डाइट में क्या शामिल करना है। मान लीजिए आपको दिन में डेढ़ सौ ग्राम प्रोटीन चाहिए। अब आप चार सौ ग्राम चिकन चेस्ट खा लें तो नफा-नुकसान काटकर अस्सी ग्राम प्रोटीन तो आपके शरीर को मिल ही जाएगा।

बाकी आप बाकी चीजों से जुटा लें। चेस्ट के पार्ट के साथ बस एक दिक्कत आती है। ये हिस्सा पकने के बाद भी बड़ा रुखा-सूखा सा रहता है। इसमें रेशे भी होते हैं, मगर ये इतनी बड़ी परेशानी नहीं है। एक बात और चिकन को बहुत ज्यादा न पकाया करें। प्रेशर कुकर में पका रहे हैं तो चेस्ट का हिस्सा आमतौर पर 15 मिनट में पक जाता है। चूंकि यह खाने में बहुत अच्‍छा स्‍वाद नहीं देता इसलिए इसके साथ आप दलिया या ओट्स या सलाद वगैरा रख सकते हैं।

100 ग्राम चिकन ब्रेस्ट में क्या क्या होता है – प्रोटीन – 25 से 30 ग्राम, कैलोरी – 100 से 120, कार्बोहाइड्रेट – 0, फैट – 0

ब्रेस्ट और ब्राउन राइज का जबरदस्त कॉम्बो

बॉडीबिल्‍डिंग में चिकन चेस्ट और ब्राउन राइस का कॉम्‍बिनेशन बहुत फेमस है। कहते हैं कि अगर आपने दिन मेंं तीन बार दोनों चीजें साथ खा लीं तो आपकी बॉडी बनने से कोई नहीं रोक सकता। ब्राउन राइस से उम्‍दा किस्‍म का कार्बोहाइड्रेट मिलता है और चिकन चेस्ट तो क्लीन प्रोटीन के लिए मशहूर है ही। हार्ड कोर बॉडीबिल्डिंग में इसे खूब सराहा जाता है। एक बात और ध्यान रखें कि एक बार में 150 से 200 ग्राम तक ही चिकन चेस्ट खायें। आप एक बार जितना पकाना है पका लें मगर खायें उसे दो से तीन हिस्सों में बांटकर।

Check Also

सौ ग्राम मूंगफली में कितना प्रोटीन होता है

कुदरत ने हमें सेहत बनाने के लिए जो चीजें दी हैं उनमें एक है मूंगफली। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *