गुजरात की धाबुही का सिर फूल कर 23 इंच का हो गया

इस 14 साल की बच्‍ची का सिर 23 इंच तक फूल गया है। यह बच्‍ची हाइड्रोसेफालस (hydrocephalus) बीमारी से पीड़ित है। इस दुर्लभ्‍ा बीमारी में सिर में पानी जमा हो जाता है। इस बच्‍ची का नाम धाबुही परमार है।
इसके मां बाप के पास इतना पैसा नहीं है कि वो इसका सही ढंग से इलाज करा सकें। बिस्‍तर पर पड़ी धाबुही की जान को गंभीर खतरा है।

इस बच्‍ची की मां को डर लगता है कि कहीं इसका सिर फट न जाए। Image courtesy : dailymail
इस बच्‍ची की मां को डर लगता है कि कहीं इसका सिर फट न जाए। Image courtesy : dailymail

धाबुही अपने पिता हितेश परमार और मां शकुंतला के साथ गुजरात में रहती है। दोनों खेतों में काम करते हैं और मुश्‍किल से रोजी रोटी कमा पाते हैं। शकुंतला कहती हैं कि वह हमेशा बिस्‍तर पर लेटी रहती है क्‍योंकि उसके सिर का वजन इनता है कि वह हिल डुल नहीं सकती। मुझे नहीं पता भगवान हमें क्‍यों सजा दे रहा है। जब वो जन्‍मी थी तो मैं बहुत खुश थी, मगर अब मैं उसे इस हालत में नहीं देखना चाहती। मुझे डर है कि एक दिन इसका सिर फट न जाए।
दो माह की उम्र में उसे यह बीमारी हो गई थी। माता पिता के पास इतना पैसा नहीं है कि वह इसका इलाज करा सकें इसलिए कई अस्‍पतालों के चक्‍कर काटने के बाद अब वो उसे घर ले आए हैं।

Dhabuhi Gujrat
इस बच्‍ची का सिर इतना भारी हो गया है कि वह हिल ही नहीं सकती। Image courtesy : dailymail

दिल्‍ली के अपोलो अस्‍पताल के डॉक्‍टर विनीत भूषण का कहना है कि अगर सही समय पर ऑपरेशन हो जाए तो ऐसे मरीज की जान बचाई जा सकती है।
इस ऑपरेशन की कीमत पांच से दस लाख रुपये के बीच है। इस बच्‍ची की मदद करने के लिए केटर्स न्‍यूज ने एक डोनेशन कैंपेन शुरू किया है।

साभार – डेल मेल

Check Also

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना पर कहा, हमें अब आगे का सोचना होगा

प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने कोविड-19 से उत्‍पन्‍न स्थिति पर चर्चा करने और इस महामारी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *